पहली बार संभोग कर रहे हैं, तो याद रखें ये 11 जरूरी बातें! Pehli Baar Sambhog Kar Rahe Hain, To Yaad Rakhen Ye 11 Jaruri Baten

Published by: 0

पहला सेक्स या संभोग! ये वो पल होता है, जब आप अपनी लाइफ में पहली बार एक ऐसे मीठे अनुभव से गुजरने वाले होते हैं, जिसके विषय में आपने बहुत-कुछ यहां-वहां से सुना या पढ़ा हुआ होता है।
कई सारे सोच-विचार, इमोशन्स, भय, उत्सुकता, थोड़ा तनाव इनके साथ कई सवाल भी होंगे जैसे- क्या-क्या करना पड़ेगा? क्या होगा? कैसे होगा? क्या बहुत कष्ट होगा? लगभग 70 प्रतिशत लोगों के लिए उनके प्रथम सहवास का अवसर एक बुरा दिन साबित होता है।
इसका कारण ये हो सकता है कि या तो वो एक-दूसरे के साथ अच्छे से बात नहीं करते हैं या फोरप्ले को समय नहीं देते हैं, जिस कारण स्त्री में पूर्ण रूप से यौन उत्तेजना पैदा नहीं होती और वेजाइना ड्राई रहता है। ऐसे में स्त्री आरामदायक महससूस नहीं करतीं, जिससे यौन संबंध के दौरान परेशानी आती है और दर्द होता है। आखिरी में परिणाम यह निकलता है कि दोनों ही असंतुष्ट रह जाते हैं।

आपके प्रथम सहवास का अनुभव यादगार बन जाये, उसके लिए हम आपकी कुछ शंकाओं और सवालों के जवाब में यहां चर्चा करेंगे, ताकि आप अपने प्रथम संभोग में घबरायें नहीं और पूरा आनंद उठा पायें।

1. खुद पर भरोसा करें :
सबसे पहले आप खुद पर पूरा विश्वास रखें और अपने मन से पक्के तौर पर निश्चय करें कि आप अब सेक्स के लिए पूरी तरह तैयार हो। किसी मित्र या अपने की बातों में आकर ऐसा ना करें।

2. विश्वसनीय साथी का साथ :
सेक्स चाहे एक रात का हो, लिव इन रिलेशनशिप में हो, लव में हो, शादी से पहले हो या फिर शादी के बाद हो, पहला सेक्स का नशा पहला ही होता है, जो हमेशा याद रहता है। इसलिए जब पहला संभोग या सेक्स करने जा रहे हों, तो ऐसे साथी को चुनिए जिन पर आप पूरा भरोसा रखते हों, प्यार करते हों और जो आपके लिए बहुत खास हो। और वैसे भी जहां तक हम समझते हैं आप अपना ऐसा सुनहरा नीजि अनुभव किसी अनजान और ना भरोसेमंद व्यक्ति के साथ नहीं शेयर करना चाहेंगे।

3. सही जगह और माहौल :
प्रथम सेक्स का अनुभव लेने जा रहे हैं तो ऐसे स्थान को चुनें जहां आप और आपका पार्टनर दोनों आरामदायक महसूस कर सकें। जहां आप दोनों सेक्स से पहले और बाद में एक-दूसरे को पूरा समय दे सको। मतलब जितनी देर आप साथ में रहो, कोई आपको परेशान ना कर सके।
कैंडल्स, गाने और सही लाइट वाला रोमांटिक माहौल आपके एक्सपीरियंस को यादगार बना देगा। ऐसा माहौल आपको मानसिक तौर पर भी स्ट्रेस फ्री करता है, जिससे आपको रिलैक्स होने में मदद मिलेगी।

यह आर्टिकल आप chetanonline.com/blog पर पढ़ रहे हैं..

4. आहिस्ता-आहिस्ता आगे बढ़ें :
सेक्स या संभोग का मतलब सिर्फ ‘प्रवेश-क्रिया’ नहीं होता है। फोरप्ले भी बहुत आवश्यक है, इसलिए अपना समय लेकर रिलेक्स हों और एक-दूसरे के साथ आरामदायक महसूस करें। अपने यौनिक सफर को आहिस्ता-आहिस्ता आगे ले जायें, जैसे शुरूआत में चुम्बन, गले लगना, बालों को सहलाना, एक-दूसरे को छूना। एक-दूसरे को उत्तेजित और उत्सुक करें। यौन उत्तेजना जागने पर स्त्रियांे व लड़कियों में वेजाइना गीला हो जाता है, जो लुब्रीकेंट की तरह काम करता है और जिससे इंटरकोर्स के समय पीड़ा नहीं होती या बहुत कम होती है। पेनिट्रेशन(योनि और लिंग का मिलन) को डिले करें और फोरप्ले को अधिक समय दें।

5. सुनें बात अपने दिल की :
अगर आप अपने साथी के साथ सेक्स से पूर्व फोरप्ले कर रहे हैं और इस बीच अचानक आपको लगता है, कि आप अभी सेक्स के लिए तैयार नहीं हैं या किसी भी अन्य कारण से आगे नहीं बढ़ना चाहते हैं, तो इस बारे में बिना संकोच के अपने पार्टनर से बात करें। ये ना सोचें कि पार्टनर नाराज हो जायेगा या क्या सोचेगा..? आप बस अपने दिल की आवाज सुनें और अपनी फीलिंग्स को अनसुना ना करें। अगर आपका पार्टनर आपसे सच्चा प्यार करता होगा या आपकी भावनाओं की कद्र करता होगा, तो वो आपकी मजबूरी या फिलिंग्स को जरूर समझेगा और समझ जायेगा कि आप अभी प्रथम सहवास के लिए खुद को तैयार नहीं कर पाये हैं।

6. एक-दूसरे से बात करें :

सेक्स केवल एक व्यक्ति से नहीं जुड़ा होता। इसका संबंध दो लोगों(स्त्री-पुरूष) से होेेेता है, इसलिए आपस में बात करना और एक-दूसरे को समझना बेहद जरूरी होता है। सेक्स के समय या फोरप्ले के दौरान अपने पार्टनर को बताएं कि आप नर्वस हैं या नहीं हैं, आप एन्ज्वाॅय कर रहे हैं या नहीं कर रहे हैं या फिर पार्टनर से पूछें कि वो एन्ज्वाॅय कर रहा है या नहीं। इस तरह से आप दोनों एक-दूसरे की फीलिंग्स को समझेंगे, रिलेक्स होंगे और शारीरिक और मानसिक तौर पर काफी आरामदायक महसूस कर पायेंगे और सेक्स को खुलकर एन्ज्वाॅय कर पायेंगे।

7. सुरक्षित सेक्स करें :
पहली बार सेक्स करने जा रहे हैं, तो सबसे ज्यादा प्रोटेक्शन का ध्यान रखें। ये बहुत उपयोगी भी है और जरूरी भी। कंडोम का प्रयोग आपको अनचाही प्रेगनेंसी से बचाने के साथ ही, यौन संक्रमण रोगों से भी बचायेगा। अक्सर कंडोम का इस्तेमाल सही से ना कर पाने के कारण कंडोम फट जाते हैं जोकि सही बात नहीं है, इसलिए कंडोम का प्रयोग करने से पहले निर्देशों को अच्छे से पढ़ लें।

8. अपनी बॉडी को लेकर सावधान रहें :
पेनिट्रेशन या इंटरकोर्स के दौरान आपका रिलैक्स रहना बेहद जरूरी है और ये तभी होगा जब अपनी बॉडी को लेकर आपके मन में कोई सवाल या शंका नहीं रहेगी। कई बार इस डर से कि इंटरकोर्स के दौरान दर्द होगा या आप ब्लीड करेंगी और इसलिए आपका सारा ध्यान वहीं चला जाता है। इस स्ट्रेस की वजह से वैजाइनल कॉन्ट्रेक्शन होता है और पहली बार सेक्स के दौरान पेनिट्रेशन में थोड़ी दिक्कत आती है और दर्द होता है।

9. पहली बार चरम प्राप्त हो, जरूरी नहीं :
पहली बार सेक्स के समय जरूरी नहीं है, कि आपको चरमसीमा(ओर्गास्म) प्राप्त हो। हो सकता है आप दोनों में से किसी एक या दोनों को ही ओर्गास्म ना हो तो दोनों को अपनी उम्मीदें अधिक नहीं रखनी चाहिए। फोरप्ले और लव मेकिंग भी बहुत अच्छे से एन्जॉय किए जा सकते हैं।

10. फिल्मी दृश्यों से संभोग की तुलना ना करें :
जैसा फिल्मों में दिखाते हैं कि पहला सेक्स एकदम सही और आनंद पूर्ण होता है। सेक्स को इस दृष्टिकोण से आप देखेंगे तो ये गलत होगा। दो लोग जब पहली बार सेक्स करेंगे, तो जाहिर है कि वो अपना समय लेंगे एक-दूसरे को समझने में और ये जानने में कि उन्हें क्या पसंद हैं और वो क्या एन्जॉय करते हैं।

11. हंसी-मजाक भी करें :
पहले सेक्स के दौरान आप दोनों थोड़े से घबराए और डरे हुए हो सकते हो, क्योंकि आप दोनों ही अपने पहले सेक्स को एक यादगार पल बनाने के प्रयास में होते हो। लेकिन इसके लिए अपने ऊपर इतना अधिक प्रेशर यानी मानसिक दबाव लेने की जरूरत नहीं है। आपसी हंसी-मजाक और छेड़छाड़ में कोई बुराई नहीं है, इसलिए सेक्स के लिए माहौल को हल्का बनाये रखें।

सेक्स से संबंधित अन्य जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.. http://chetanonline.com/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *