Masik Dharm Ke Samay Dard Ke Ayurvedic Upay

कष्टरज, मासिक धर्म पीड़ा से आना, कृच्छार्तव, रजःकृच्छता डाइमेनरिह्या(Dysmenorrhoea)- परिचय- मासिकधर्म प्रारम्भ होने से 5-6 दिन पहले कमर, पेडू और पूरे शरीर में बहुत अधिक पीड़ा होती है। पेड़ू में तो ऐसी तीव्र पीड़ा होती है, जो संवेदनशील स्वभाव की रोगिणी चिल्लाकर रोने के लिए बाध्य हो जाती है। स्राव काला आभायुक्त आता है। स्राव […]