Safed Pani Jane Ki Samasya Ka Desi Ilaj

सफेद पानी जाने की समस्या का देसी इलाज स्त्रियों की जननेन्द्रिय से चिपचिपा, सफेद तरल स्राव आने को श्वेत प्रदर धातु गिरना कहते हैं। जब इसके साथ रक्त भी मिला होता है, तो इसे रक्तप्रदर कहते हैं। सफेद पानी जाने की समस्या कारण: यह अपने आप में कोई स्वतंत्र रोग नहीं है, बल्कि अन्य रोगों या […]

Dhatu Ki Samasya Ke Liye Desi Gharelu Nuskhe

धातु दुर्बलताSexual Debility)- इस रोग को धातु दौर्बल्य, धातु क्षीणता अथवा धातु की कमजोरी नाम से भी पुकारा जाता है। धातु और वीर्य एक ही अर्थ में प्रयुक्त होते हैं। वीर्य अथवा धातु कम हो जाना, क्षीण हो जाना अथवा एकदम नष्ट हो जाना, धातु दुर्बलता की श्रेणी में आते हैं। धातु दुर्बलता के प्रमुख […]

Shighrapatan Ke Karan Aur Aasan Desi Upay

शीघ्रपतन के कारण और आसान देसी उपाय शीघ्रपतन किसे कहते हैं? जब कोई पुरूष अपनी महिला साथी या फिर पत्नी के साथ संभोग करे और बिना अपनी पार्टनर को संतुष्ट किए ही समय से पूर्व स्खलित हो जाये, तो उस अवस्था को शीघ्रपतन कहेंगे। शीघ्रपतन के कारण- मैथुन इच्छा की अधिकता, हस्तमैथुन, वीर्यप्रमेह, वीर्य की […]

Mahilaon Ko Charam Sukh Kaise Milta Hai

महिलाओं को चरमसुख कैसे मिलता है? स्त्रियों की चरम सीमा-(Female Orgasm) स्त्री और पुरूष जब मैथुन(सेक्स) करते हैं, तब चरम सीमा मैथुन की अन्तिम अवस्था का नाम है, जिसको ‘चरम तृप्ति’ भी कहते हैं। इसका समय कुछ क्षण, कुछ सैकेण्ड का ही होता है। लेकिन उस थोड़े समय में स्त्री-पुरूष को अति मैथनानन्द की अनुभूति […]

Stambhan Shakti Badhane Ke Gharelu Upay

स्तम्भन क्या है? स्तम्भन शब्द का अर्थ अवरोध, ठहराव तथा रूकावट है। कामशास्त्र में ‘स्तम्भन’ शब्द का अर्थ ‘वीर्य स्तम्भन’ के रूप में लिया जाता है। अर्थात् वीर्य का नियंत्रण, वीर्य स्खलन की प्रक्रिया में रोक। संभोग के अंत में वीर्य स्खलित होना(वीर्यपात) यह स्वाभाविक क्रिया है। लेकिन संभोग के प्रारम्भ के कुछ क्षण बाद […]

Mahilaon Ke Gupt Rog Ka Ayurvedic Upchar

महिलाओं के गुप्त रोग का आयुर्वेदिक उपचार योनि की शिथिलता, योनिभ्रंश, योनि संकोचन, योनिकन्द(Prolapsed of Uterus)- परिचय- जब गर्भाशय(Uterus) अपने स्थान से नीचे की ओर आ जाता है, तो इसे योनिभ्रंश कहते हैं। कभी-कभी तो यह योनि मार्ग से बाहर निकल आता है। यह स्त्रियों का कष्टदायक रोग है। चिकित्सा- 1. कामरूप की छाल और […]

Shighrapatan Ki Achuk Ayurvedic Aushadhiyan

शीघ्रपतन की अचूक आयुर्वेदिक औषधियाँ शीघ्रपतन की आयुर्वेदिक चिकित्सा- आशा की विपरीत एकाएक या काफी कम समय में मैथुन पूर्व या मैथुन के दौरान वीर्य निकल जाना शीघ्रपतन रोग कहलाता है। इस रोग से ग्रस्त पुरूषों को स्त्रियां पसंद नहीं करतीं। शीघ्रपतन का रोगी स्त्री को संतुष्ट नहीं कर पाता। छोटी कच्ची आयु से ही […]

Hastmaithun Ki Lat Ke Karan Hone Wale Nuksan

हस्तमैथुन की लत के कारण होने वाले नुकसान हस्तमैथुन के घातक दुष्प्रभाव- हस्तमैथुन के समय लिंग के स्नायु उत्तेजित हो जाते हैं, जिससे एक प्रकार का अव्यक्त आनंद की अनुभूति होती है। बार-बार इस आनंद की प्राप्ति के लिए रोगी बार-बार हस्तमैथुन करता है, जिससे स्नायुयों में एक प्रकार की अकड़न पैदा हो जाती है। […]

Purusho Me Prameh Rog Ka Ayurvedic Upchar

पुरूषों में प्रमेह रोग का आयुर्वेदिक उपचार प्रमेह(ज़िरयान)- परिचय- आहार विहार की अनियमितता के कारण जब शरीर में वात, पित्त और कफ़ विकृत(दोष पूर्ण) हो जाते हैं, जिसकी वजह से जागृत अवस्था में जाने अनजाने में मूत्र मार्ग के साथ या मूत्र के आगे-पीछे गाढ़े सफेद और लेसदार स्त्राव आने लगता है, इसे ही प्रमेह […]

Peshab Me Jalan Aur Dard Ki Ayurvedic Dawa

पेशाब में जलन और दर्द की आयुर्वेदिक दवा मूत्रकृच्छता, मूत्र में जलन होना, मूत्र पीड़ा के साथ बूंद-बूंद आना- Dysuria- परिचय- मूत्र जलन के साथ या असहनीय पीड़ा के साथ थोड़ा-थोड़ा, बूंद-बूंद आता है। पेशाब की हाज़त बराबर बनी रहती है, लेकिन मूत्र खुलकर नहीं आता है। रोग की उग्रता अधिक हो तो मूत्र करते […]